Fri. May 24th, 2024
गीता जयंती एक्सप्रैस की चपेट में आने से सर्विसमैन की मौत, चुलकाना धाम में मत्था टेककर घर की तरफ वापिस आते समय हादसा, बैग से मिला प्रसाद

तरावड़ी, 13 जुलाई (रोहित लामसर)। तरावड़ी रेलवे स्टेशन के पास गीता जयंती एक्सप्रैस की चपेट में आने से सर्विसमैन की मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक सर्विसमैन नीलोखेड़ी हल्के के गांव बड़थल का रहने वाला है। जिसकी पहचान रणधीर कुमार उर्फ धीरा के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि गांव बड़थल का रहने वाला रणधीर कुमार दिल्ली में प्रैस में नौकरी करता है, वह घर वापिस आने से पहले चुलकाना धाम में मत्था टेककर आ रहा था, लेकिन संदिग्ध परिस्थितियों में ट्रेन की चपेट में आने से उसकी दर्दनाक मौत हो गई। जब रेलवे कर्मचारी ने तरावड़ी एफ.सी.आई. गोदाम के सामने रेलवे ट्रैक पर शव पड़े हुए देखा तो इसकी सूचना तुंरत जी.आर.पी. पुलिस को दी गई। जी.आर.पी. पुलिस से जांच अधिकारी जसबीर अपनी टीम लेकर मौके पर पहुंचे। पुलिस की शुरूआती जांच में शव के आसपास एक बैग मिला। बैग में प्रसाद के साथ-साथ कपड़े और मोबाईल फोन की लीड मिली। आधार कार्ड के साथ-साथ अन्य दस्तावेज भी मिले। एक पर्ची पर तीन मोबाईल नंबर लिखे थे, पुलिस ने जब फोन पर सूचित किया तो कुछ देर बाद परिजन भी मौके पर पहुंचे। परिजनों ने पुलिस को बताया कि यह दिल्ली प्रैस में नौकरी करने वाला रणधीर है, जो चुलकाना धाम में मत्था टेकने के बाद घर की तरफ वापिस आ रहा था। पुलिस ने रेलवे ट्रैक के बीच कई जगहों पर बिखरा शव उठवाकर रेलवे ट्रैक को सूचारू करवाया। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए करनाल के मर्चरी हाऊस में रखवा दिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *