Fri. May 24th, 2024

करनाल, ब्यूरो, रोहित लामसर। निगम की दुकानों का किराया न चुकाने वाले डिफॉल्टर दुकानदारों के खिलाफ शुक्रवार को एक बड़ी कार्रवाई की गई। इस दौरान गांव कंबोपुरा की 2 दुकानों को सील किया गया, जबकि एक दुकान द्वारा आंशिक भुगतान करने पर उसे कुछ दिनों की मोहलत देकर छोड़ा गया। इनकी तरफ करीब 21 लाख रुपए पिछले 8-10 वर्षों से किराया लंबित चला आ रहा था। यह जानकारी नगर निगम की संयुक्त आयुक्त अदिति ने दी। संयुक्त आयुक्त ने बताया कि कार्रवाई संपन्न करवाने के लिए उप निगम आयुक्त विनोद नेहरा को बतौर ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया था, जबकि सील करने गई एन्फोर्समेंट टीम में सचिव बल सिंह, रेंट सहायक राम सिंह और पुलिस बल मौजूद था। संयुक्त आयुक्त ने बताया कि कार्रवाई में सर्वप्रथम मेरठ रोड पर स्थित कंबोपुरा गांव की दुकान नंबर 19 को सील किया गया, इनकी ओर करीब 6 लाख रुपए का नगर निगम का किराया बकाया था। इसके बाद इसी गांव की दुकान नंबर 22 को सील किया गया, इसकी ओर करीब 10 लाख रुपए बकाया राशि थी। इसके उपरांत करीब 5 लाख रुपए की बकायादार दुकान नंबर-5 को सील करने की कार्रवाई शुरू की गई। संबंधित दुकानदार ने सीलिंग से बचने के लिए आंशिक भुगतान के रूप में नगर निगम में 50 हजार रुपए की रसीद कटवाई और इतनी ही राशि का चेक जमा करवाया। टीम द्वारा इस दुकानदार को शेष राशि जमा करवाने के लिए कुछ दिनों की मोहलत दी गई। निगम रेंट न चुकाने वाले डिफॉल्टर दुकानदारों को नोटिस जारी कर चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *